RPSC 1st Grade Political Science syllabus in hindi pdf download

RPSC 1st Grade Political Science syllabus in hindi pdf download – RPSC द्वारा स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा का आयोजन किया जाता है | विभाग ने व्याख्याता पद के लिए सभी विषयों के पाठ्यक्रम और परीक्षा पैटर्न को अपनी विभागीय वेबसाइट पर इंग्लिश में अपलोड कर रखा है| इंग्लिश भाषा में सलेबस होने के कारण अभ्यर्थियों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है | परिणामत: अभ्यर्थी इन्टरनेट पर RPSC 1st Grade Political Science Syllbus in Hindi सर्च करते है | इसलिए हमने अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए इस पोस्ट में Political Science Syllabus उपलब्ध करवाया गया है | और इसके साथ ही आप सलेबस की PDF Download भी कर सकते हो |

परीक्षा की योजना ( RPSC 1st Grade Political Science Syllabus in Hindi ) –

  • पेपर में सभी प्रश्न बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न होंगे |
  • उत्तर के मूल्यांकन में नकारात्मक अंकन लागू होगा।
  • नकारात्मक अंकन 1/3 लागू रहेगा |
  • पेपर की अवधि 3 घंटा होगी |
क्रम संख्या विषय प्रश्नों की संख्या कुल अंक
1. राजनीति विज्ञान ( उच्च माध्यमिक स्तर )55110
2.राजनीति विज्ञान ( स्नातक स्तर )55110
3.राजनीति विज्ञान ( स्नातकोत्तर स्तर )1020
4.शैक्षिक मनोविज्ञान, शिक्षा शास्त्र, शिक्षण सामग्री, शिक्षण में कम्पूटर और सुचना प्रौधिगिकी का उपयोग3060
कुल 150 300
परीक्षा की योजना ( RPSC 1st Grade Political Science Syllabus in Hindi )

राजनीति विज्ञान ( उच्च माध्यमिक स्तर ) ( RPSC 1st Grade Political Science Syllabus in Hindi ) –

  • राजनीतिक सिद्धांत: अर्थ और इसकी उपयोगिता।
  • अवधारणाएं: अधिकार, स्वतंत्रता, समानता; न्याय धर्मनिरपेक्षता, नागरिकता और विकास।
  • भारतीय संविधान: संविधान सभा, प्रस्तावना, संविधान के लक्षण, मौलिक अधिकार, राज्य के नीति निर्देशक सिद्धांत।
  • संघवाद: केंद्र-राज्य संबंध।
  • केंद्र सरकार: राष्ट्रपति, प्रधान मंत्री और मंत्रिपरिषद, संसद, सर्वोच्च न्यायालय।
  • राज्य सरकार: राज्यपाल, मुख्यमंत्री और मंत्रिपरिषद, विधानमंडल, उच्च न्यायालय।
  • स्थानीय सरकार: पंचायती राज, शहरी स्थानीय स्वशासन। • भारतीय राजनीति: राष्ट्र निर्माण की चुनौतियां, पार्टी प्रणाली, भारतीय राजनीति में हालिया विकास।
  • अंतर्राष्ट्रीय राजनीति: शीतयुद्ध, शीतयुद्ध का अंत, अमेरिकी आधिपत्य समसामयिक संसार, परिदृश्य, उपकरण और चुनौतियाँ।
  • अंतर्राष्ट्रीय संगठन: संयुक्त राष्ट्र, यूरोपीय संघ, आसियान, सार्क, अल्बा और नाम।
  • भारत की विदेश नीति: उद्देश्य, संयुक्त राष्ट्र, भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका, भारत और गुटनिरपेक्ष आंदोलन में भारत की भूमिका; भारत की विदेश नीति के समक्ष चुनौतियां |

राजनीति विज्ञान ( स्नातक स्तर ) ( RPSC 1st Grade Political Science Syllabus in Hindi ) –

  • राजनीतिक सिद्धांत: पारंपरिक और आधुनिक परिप्रेक्ष्य।
  • राज्य: प्रकृति, कार्य, संप्रभुता, बहुलवाद |
  • सरकार: अंग – विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका; इसका विभाजन ; पावर, चेक और बैलेंस। प्रकार – लोकतंत्र और तानाशाही, संसदीय और राष्ट्रपति, संघीय और एकात्मक।
  • प्रतिनिधित्व के सिद्धांत, राजनीतिक दल, दबाव समूह।
  • राजनीतिक विचार: प्लेटो, अरस्तू, कौटिल्य, मैकियावेली, हॉब्स, लोके, रूसो, बेंथम, मिल, मार्क्स, नौरोजी, गांधी, अरबिंदो, अम्बेडकर, नेहरू, लोहिया।
  • भारतीय लोकतंत्र की गतिशीलता: पार्टी, जाति, क्षेत्र, नए सामाजिक आंदोलन। पड़ोसी देशों के साथ भारत के संबंध।

राजनीति विज्ञान ( स्नातकोत्तर स्तर ) ( RPSC 1st Grade Political Science Syllabus in Hindi ) –

  • व्यवहारवाद और उत्तर व्यवहारवाद।
  • राजनीतिक व्यवस्था, संरचनात्मक – प्रकार्यवाद, राजनीतिक विकास और राजनीतिक संस्कृति।
  • अमेरिका और भारत में संघवाद की गतिशीलता।
  • अंतरराष्ट्रीय राजनीति और राष्ट्रीय शक्ति और राष्ट्रीय हित की अवधारणाओं के अध्ययन के लिए दृष्टिकोण।

शैक्षिक मनोविज्ञान, शिक्षा शास्त्र, शिक्षण सामग्री, शिक्षण में कम्पूटर और सुचना प्रौधिगिकी का उपयोग –

शिक्षण अधिगम में मनोविज्ञान का महत्तव –

  • अधिगमकर्त्ता
  • शिक्षक
  • सीखने-सिखाने की प्रक्रिया
  • स्कुल की प्रभावशीलता |

शिक्षार्थी का विकास –

  • किशोर शिक्षार्थी का संज्ञानात्मक, शारीरिक, सामाजिक, भावनात्मक और नैतिक विकास पैटर्न और विशेषताएँ|

शिक्षण – सीखना –

  • सीखने की अवधारणा
  • व्यवहार, संज्ञानतमक और रचनावादी सिद्धांत और वरिष्ठ माध्यमिक छात्रों के लिए इसके निहितार्थ
  • किशोरों की सीखने की विशेषताएं और शिक्षण के लिए इसके निहितार्थ |

किशोर शिक्षार्थी का प्रबंधन –

  • मानसिक स्वास्थ्य और समयोजन समस्याओं की अवधारणा
  • भावनात्मक बुद्धिमत्ता और किशोरों के मानसिक स्वास्थ्य पर इसका प्रभाव
  • किशोरों के मानसिक स्वास्थ्य के पोषण के लिए मार्गदर्शन तकनीकों का उपयोग |

किशोर शिक्षार्थी के लिए निर्देशात्मक रणनीतियां –

  • संचार कौशल और इसका उपयोग
  • शिक्षण के दौरान शिक्षण- अधिगम सामग्री तैयार करना और उसका उपयोग करना
  • विभिन्न शिक्षण दृष्टिकोण –
    • टीचिंग मॉडल्स – एडवांस ओर्गनाईजर, साईटिफिक इन्कवायरी, इनफार्मेशन प्रोसेसिंग, कोपरेटिव लर्निंग |
  • रचनावादी सिद्धांत आधारित शिक्षण

ICT शिक्षाशास्त्र एकीकरण –

  • ICT की अवधारणा
  • हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की अवधारणा
  • निर्देश के लिए सिस्टम दृष्टिकोण
  • कंप्यूटर असिस्टेड लर्निंग
  • कंप्यूटर एडेड निर्देश
  • ICT शिक्षाशास्त्र एकीकरण को सुगम बनाने वाले कारक |

Read Also:

RPSC 1st Grade Paper 1st Syllabus in Hindi

Leave a Comment

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: