अविकारी/ अव्यय शब्द : क्रिया-विशेषण

क्रिया विशेषण किसे कहते है? kriya visheshan aur uske bhed क्रिया विशेषण के कितने भेद होते है? अविकारी शब्द किसे कहते है? अव्यव्य शब्दों को परिभाषित कीजिये? आदि प्रश्नों के उत्तर इस पोस्ट में मिलेंगे |

क्रिया विशेषण और उसके भेद kriya visheshan aur uske bhed

क्रिया विशेषण किसे कहते है?

क्रिया विशेषण के भेद

Read Also : Hindi Grammar Notes

प्रकार: क्रिया विशेषण शब्द मुख्यतः 4 प्रकार के होते हैं, जबकि कतिपय विद्वान् इसके भेद निम्नानुसार करते हैं

Read Also : English Grammar Notes

(i) कालबोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द जो क्रिया के होने या करने के समय का बोध कराते हैं। जैसे-कब, जब, कल, आज, प्रतिदिन, प्रायः, सायं, अभी-अभी, लगातार अब, तब, पहले, बाद में।

(ii) स्थानबोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द जो क्रिया के स्थान या दिशा का बोध कराते हैं जैसे – ऊपर, नीचे, पास, दूर, इधर, उधर, यहाँ, यहाँ, जहाँ, तहाँ, दाएँ, बाएँ, निकट, सामने, अन्दर, बाहर।

Read Must : Rajasthan GK Important Questions in Hindi

(iii) परिमाण बोधक क्रिया-विशेषण

ये अव्यय शब्द, जो क्रिया के होने की मात्रा या परिमाण का बोध कराते हैं। जैसे – बहुत, अति, सर्वथा, कुछ, थोड़ा, बराबर, ठीक, कम, अधिक, बढ़कर, थोड़ा-थोड़ा, उतना, जितना, खूब।

(iv) रीतिबोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के होने की रीति या ढंग का बोध कराते हैं। जैसे- धीरे-धीरे, सहसा, शीघ्र, तेज, मीठा, शायद, मानो, ऐसे, अचानक, स्वयं, यथाशक्ति, निःसन्देह।

Read Must : Hindi Grammar Important Questions for Gram Sevak

(v) कारण बोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के कारण को प्रकट करते हैं। जैसे- इस तरह, अतः, किस प्रकार।

(vi) स्वीकारबोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय, शब्द, जो क्रिया की स्वीकृति को प्रकट करते हैं। जैसे- अवश्य, बहुत अच्छा।

(vii) निषेधबोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के निषेध को प्रकट करते हैं। जैसे- न, नहीं, मत।

(viii) प्रश्न वाचक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के प्रश्न को प्रकट करते हैं। जैसे- कहाँ, कब।

(ix) निश्चयबोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के निश्चय को प्रकट करते हैं। जैसे- वास्तव में, मुख्यतः।

(x) अनिश्चयबोधक क्रिया-विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के अनिश्चय को प्रकट करते हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: