Rajasthan History : Hadouti Ke Chouhan | हाडौती के चौहान

Rajasthan History : Hadouti Ke Chouhan | हाडौती के चौहान – इस भाग में आपको Hadouti Ke Chouhan के बारे में चौहान वंश की नींव से लेकर राजस्थान संघ में विलय तक की सम्पूर्ण जानकारी मिलेगी |

हाडौती के चौहान –

  • इस क्षेत्र में महाभारत के समय मीणा जाति निवास करती थी।
  • मध्यकाल में यहाँ मीणा जाति का ही राज्य स्थापित हो गया था।
  • पूर्व में यह सम्पूर्ण क्षेत्र केवल बूंदी में ही आता था।
  • हाड़ौती में वर्तमान बूंदी, कोटा, झालावाड़ एवं बारां के क्षेत्र आते हैं।
  • 1241 ई. में यहाँ हाड़ा चौहान देवा ने मीणा शासक जैता को पराजित कर यहाँ चौहान वंश का शासन स्थापित किया।
  • देवा नाडोल के चौहानों का ही वंशज था।
  • बूंदी का यह नाम वहाँ के शासक बूंदा मीणा के नाम पर पड़ा।
  • मेवाड़ नरेश क्षेत्रसिंह ने आक्रमण कर बूंदी को अपने अधीन कर लिया।
  • तब से बूंदी का शासन मेवाड़ के अधीन ही चल रहा था।
  • 1569 ई. में सुरजन सिंह ने अकबर से संधि कर ली और तब से बूंदी मेवाड़ से मुक्त हो गया।
  • 1631 ई. में मुगल बादशाह शाहजहाँ ने कोटा को बूंदी से स्वतंत्र कर बूंदी के शासक रतनसिंह के पुत्र माधोसिंह को वहाँ का शासक बना दिया।
  • मुगल बादशाह फर्रुखशियर के समय बूंदी नरेश बुद्धसिंह के जयपुर नरेश जयसिंह के खिलाफ अभियान पर न जाने के कारण बूंदी राज्य का नाम फर्रुखाबाद रख उसे कोटा नरेश को दे दिया
  • परंतु कुछ समय बाद बुद्धसिंह को बूंदी का राज्य वापस मिल गया।
  • बाद में बूंदी के उत्तराधिकार के संबंध में बार-बार युद्ध होते रहे
  • जिनमें मराठे, जयपुर नरेश सवाई जयसिंह एवं कोटा की दखलंदाजी रही।
  • राजस्थान में मराठों का सर्वप्रथम प्रवेश बूंदी में हुआ
  • जब 1734 ई. में वहाँ की बुद्धसिंह की कछवाही रानी आनन्द (अमर) कुँवरी ने अपने पुत्र उम्मेदसिंह के पक्ष में मराठा सरदार होल्कर व राणोजी को आमंत्रित किया।
  • 1818 ई. में बूंदी के शासक विष्णुसिंह ने मराठों से सुरक्षा हेतु ईस्ट इंडिया कम्पनी से संधि कर ली।
  • देश की स्वाधीनता के बाद बूंदी का राजस्थान संघ में विलय हो गया।

FAQ (Hadouti Ke Chouhan) :

1. बूंदी का नाम कैसे पड़ा?

ANS. बूंदी के शासक बूंदा मीणा के नाम पर बूंदी नाम पड़ा|

2. हाडौती में वर्तमान में कौन कौन से जिले आते है?

ANS. हाड़ौती में वर्तमान बूंदी, कोटा, झालावाड़ एवं बारां के क्षेत्र आते हैं।

3. हाडौती में चौहान वंश की स्थापना किसने की थी?

ANS. 1241 ई. में यहाँ हाड़ा चौहान देवा ने मीणा शासक जैता को पराजित कर यहाँ चौहान वंश का शासन स्थापित किया।

4. राजस्थान में मराठों का सर्वप्रथम प्रवेश कहाँ से हुआ?

ANS. राजस्थान में मराठों का सर्वप्रथम प्रवेश बूंदी में हुआ

5. बूंदी के किस शासक ने ईस्ट इंडिया कंपनी से संधि की थी और कब की थी?

ANS. सन् 1818 ई. में बूंदी के शासक विष्णुसिंह ने मराठों से सुरक्षा के लिए ईस्ट इंडिया कंपनी से संधि कर ली थी |

Read Also :

Leave a Comment

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: